अंजीर एक ऐसा फल है जो मीठा होने के साथ-साथ उतना ही लाभदायक भी होता है। अंजीर के सूखे फल बहुत गुणकारी होते हैं। अंजीर साल भर नहीं उगता है इसलिए इसके सूखे रूप का ही ज़्यादातर इस्तेमाल होता है, और यह हमेशा बाजार में उपलब्ध होता है। अंजीर में काफी मात्रा में विटामिन ए (vitamin A), विटामिन बी 2 (vitamin B2), विटामिन बी 1 (vitamin B1) होता है और इसके अलावा मेंगनीस, कैल्शियम, फाइबर, आयरन, पोटेशियम, सोडियम, क्लोरिन और गोंद भी पाया जाता है अंजीर में। अंजीर में 29 प्रतिशत फाइबर होता है जो हाई कोलेस्ट्रोल को लेवल करता है जिससे आपका वजन संतुलित रहता है। ऐसा माना जाता है कि एक अंजीर एक गिलास दूध के बराबर पोषक होता है।

आइये जानते हैं अंजीर के कुछ ऐसे ही लाभ के बारे में:

वज़न कम करने में मददगार (Helpful in weight loss)

अंजीर में फाइबर तो उच्च मात्रा में होता ही है, साथ ही इसमें कैलोरी भी कम होती है। अंजीर के एक टुकड़े में 47 कैलोरी होता है और फैट 0.2 ग्राम होता है। इसलिए वज़न घटाने वालों के लिए यह एक बेहतरीन स्नैक्स बन सकता है। जो लोग अपना वजन घटाना चाहते हैं वे हर रोज कम से कम एक अंजीर का सेवन जरुर करें।

हाई बीपी से बचाता है

एक सूखे अंजीर में 129 मिलीग्राम पोटाशियम और 2 मिलीग्राम सोडियम होता है। और अगर आप आहार में नमक ज़्यादा लेते हैं तो वह शरीर में सोडियम के स्तर को बढ़ा देता है। इससे शरीर में सोडियम-पोटाशियम के स्तर का संतुलन बिगड़ जाता है जिसके कारण हाई बीपी का खतरा बढ़ जाता है। ऐसे में अंजीर इस संतुलन को बनाए रखने में मदद करता है।

निखारे आपका सौन्दर्य (Fig, a beauty enhancer)

सूखे अंजीर में एन्टीऑक्सिडेंट्स (figs are rich in antioxidants) भरपूर मात्रा में होते हैं। एक स्टडी के अनुसार प्राकृतिक अंजीर में सूखे अंजीर के तुलना में कम एन्टीऑक्सिडेंट्स के गुण होते हैं। इसमें दूसरे एन्टीऑक्सडेंट प्रदान करने वाले खाद्द पदार्थों की तुलना में ज़्यादा एन्टीऑक्सिडेंट होता है। यह उन लोगों के लिए बहुत फायदेमंद होता जो पोषक तत्वों की कमी (nutrient deficiency) की वजह से बेजान त्वचा, बालों का झड़ना, आँखों के नीचे घेरे, चेहरे पर काले धब्बे जैसी समस्यायों का सामना कर रहे हैं।

दिल को स्वस्थ रखता है (Keeps heart healthy)

इसमें उच्च मात्रा में एन्टीऑक्सडेंट गुण होने के कारण यह शरीर से फ्री-रैडिकल्स को दूर करने में मदद करता है जिससे रक्त कोशिाकाएं स्वस्थ रह पाती है और दिल की बीमारी का खतरा कुछ हद तक कम हो जाता है।

कैंसर होने की सम्भावना कम करे (Reduce the risk of cancer)

एन्टीऑक्सिडेंट गुण से भरपूर अंजीर फ्री-रैडिकल्स के क्षति से डी.एन.ए. की रक्षा करता है जिससे कैंसर होने की संभावना कुछ हद तक कम हो जाती है।

हड्डियों को मजबूत करे (Strengthen bones)

शरीर में कमजोरी हो, कद (height) ठीक से न बढ़ रही हो, खासतौर पर बच्चों में तो ये अंजीर और केले से बनी हुई एनर्जी ड्रिंक बच्चों को जरूर दें। एक सूखे अंजीर में 3% कैल्शियम होता है जो शरीर के लिए कैल्शियम के ज़रूरत को पूरा करने में सहायता करता है। यह कैल्शियम अन्य कैल्शियम युक्त खाद्द पदार्थों के साथ मिलकर हड्डियों को शक्ति प्रदान करता है।

प्रजनन क्षमता बढाए (Helpful in increasing Fertility)

अंजीर में जो जिन्क, मैंगनीज, और मैग्नेशियम होता है वह प्रजनन स्वास्थ्य को उन्नत करने में बहुत सहायता करता है। इसलिए प्राचीन काल से सेक्स के लिए उत्तेजना प्रदान करने के लिए अंजीर का सेवन किया जाता रहा है। अंजीर फर्टिलटी (fertility) में सहायता करता है।

जख्म भरने में भी मददगार (Helps wounds heal)

किसी प्रकार का जख्म हो जाने पर भी उसे भरने के लिए अंजीर का लेप इस्तेमाल किया जा सकता है। इस लेप को बनाने के लिए सूखे अंजीर को दूध में पीस ले। इसका पेस्ट बनाकर जिस जगह पर जख्म हुआ है उस जगह पर पोटली की तरह बांध दे। जल्दी ही जख्म ठीक हो जायेगा। ताजे अंजीर को कूटकर जख्म पर लगाने से भी जख्म जल्दी ठीक हो जाता है।

पाचन सुधारे (To improve digestion)

अंजीर में पेक्टिन (pectin) होता है इसीलिए ये डाइजेस्टिव सिस्टम के लिए काफी फायदेमंद होता है। अगर किसी व्यक्ति को कब्ज है या लूजमोशन हैं तो ऐसे में सूखे हुए अंजीर को खाने के बाद पानी पी ले। ऐसा करने से सुबह तक पेट की गड़बड़ी ठीक हो जाएगी।

इसके अलावा 2 या 4 अंजीर को रात को किसी बर्तन में पानी डालकर उसमे भिगो दें। सुबह उठकर अंजीर को पानी में से निकालकर खूब चबा–चबा कर खाएं। अंजीर को खाने के बाद जिस पानी में अंजीर को भिगोया तथा उस पानी को भी पी जाये। ऐसा करने से पेट की कब्ज बिल्कुल खत्म हो जाएगी। 8 से 10 दिन लगातार ऐसा करने से पेट की कब्ज में राहत मिलेगी।

या फिर एक अंजीर को चार टुकड़ों में काट लें। इन टुकड़ों को एक गिलास दूध में डालकर थोड़ी देर के लिए छोड़ दे। रात को सोने से पहले दूध को थोडा गुनगुना करके पी लें। और भीगे हुए अंजीर के टुकडो को अच्छी तरह से चबा – चबा कर खा लें। सुबह तक आपकी कब्ज ठीक हो जाएगी।