काली मिर्च भारतीय महत्‍वपूर्ण मसालों में से एक है। भोजन में काली मिर्च का उपयोग गर्म मसालों में किया जाता है। मसाले के अलावा काली मिर्च का उपयोग कई रोगों के उपचार के रूप में और सौन्दर्य भी किया निखारने में भी किया जाता है।आइये जानते हैं कालीमिर्च के कुछ ऐसे उपयोग के बारे में जिनके बारे में शायद आप ना जानते हों :

कैंसर को रोकता है (Prevents cancer)

काली मिर्च कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी से शरीर की सुरक्षा करता है। एक स्टडी के अनुसार कालीमिर्च ब्रेस्‍ट कैंसर को होने से रोकने में काफी मदद करता है। काली मिर्च के नियमित सेवन से ब्रेस्ट कैंसर की गांठ नहीं बनती है। काली मिर्च में विटामिन सी, विटामिन ए, फ्लैवोनॉयड्स, कारोटेन्‍स और अन्‍य एंटी-ऑक्‍सीडेंट पाये जाते हैं। यह कैंसर को रोकने में मदद करते हैं।

पेट में गैस बने तो कालीमिर्च का इस्तेमाल करें

काली मिर्च पेट की गैस से राहत दिलाती है। काली मिर्च, शरीर की ये समस्‍या दूर करने में सबसे कारगर साबित होती है। इसके अलावा, अगर पेट फूल गया हो या दर्द हो रहा हो, तो भी काली मिर्च का सेवन करने से आराम मिलता है।

चमकदार चेहरे के लिए कालीमिर्च स्क्रब

काली मिर्च को दरदरा कूट कर किसी भी फेस पैक में मिला लें और फिर इससे चेहरे पर स्‍क्रब करें इससे त्‍वचा में चमक आती है। लेकिन इसका इस्‍तेमाल सीमित मात्रा में, कम और सावधानीपूर्वक करना चाहिए। ज्यादा इस्तेमाल से त्वचा में जलन भी हो सकती है इसके स्‍क्रब से मृत त्‍वचा निकल जाती है और त्‍वचा को पोषण मिलता है। साथ ही यह रक्‍त संचार को सुचारु करती है जो कि त्‍वचा को निखारने के लिए बहुत जरूरी है। इसके अलावा काली मिर्च में एंटी-बैक्टीरियल तत्‍व पाये जाते हैं जो स्किन में किसी भी प्रकार का संक्रमण होने से रोकते हैं।

बालों की रूसी कम करे (Reduce dandruff)

बालों में यदि रूसी है तो इसे हटाने के लिए काली मिर्च का प्रयोग करें। इसमें मौजूद एंटी-बैक्‍टीरियल तत्‍व रूसी को कम करने में सहायक होते हैं। काली मिर्च पावडर को एक कप दही में अच्‍छे से फेंट लें और फिर उसे बालों की जड़ों में लगाएं। इसे आधा घंटे के लिए बालों में लगा छोड़ दें। इसके बाद, अपने बालों को पानी से धो लें, दूसरे दिन शैम्‍पू करें। काली मिर्च का इस्‍तेमाल बहुत ज्‍यादा न करें, इससे सिर की त्‍वचा खराब भी हो सकती है।

बालों की लंबाई तेज़ी से बढाकर उन्हें लंबा, काला और घना बनायें, Grow Hairs Fast, Up to 5cm (2inch) in a Month, Stop Hair Fall, Dandruff, Get Long, Strong Hairs

सर्दी और जुकाम कम करे

सर्दी, जकड़न और कफ में राहत दिलाती है काली मिर्च। इसके सेवन से खांसी में भी आराम मिलता है। ज्‍यादा सर्दी लग जाने पर काली मिर्च और लहसुन को मिलाकर खाएं, तुंरत राहत मिलेगी। जुकाम होने पर काली मिर्च मिलाकर गर्म दूध पियें।

भूख बढ़ाये (Increase appetite)

काली मिर्च, पाचन को दुरुस्‍त करता है जिससे भूख न लगने की शिकायत दूर होती है और शरीर स्‍वस्‍थ रहता है। जिन लोगों को कम भूख लगती है उन्‍हे काली मिर्च के पाउडर वाला भोजन खाना चाहिए इससे भूख खुलेगी। इसके अलावा यह भोजन के गुणों को बढ़ा देता है। काली मिर्च, भोजन के सभी पोषक तत्‍वों को अवशोषित कर लेता है और शरीर को सारे पोषक तत्‍व प्रदान करता है।

तनाव से बचाये

काली मिर्च एक प्राकृतिक एंटी-डिप्रेशन है। यदि आप तनाव या अवसाद से ग्रस्‍त हैं तो नियिमत काली मिर्च का सेवन करें, तनाव दूर होगा। अपने दैनिक भोजन में इसे नियमित रूप से शामिल करें, यह शरीर को स्‍वस्‍थ रखता है जिसके कारण व्‍यक्ति के दिमाग में नकारात्‍मक विचार नहीं आते, नकारात्‍मक सोच ही तनाव का कारण बनता है। इसलिए अपने आहार में काली मिर्च मिलायें और स्‍वस्‍थ रहें।

दांत दर्द की परेशानी को दूर करे (Black pepper for tooth ache)

दांतों में दर्द होने पर काली मिर्च लाभदायक होती है। इसका उपयोग करने के लिए जब भी दांतों में दर्द हो तो काली मिर्च को मुंह रख कर चबाये। इससे दांतों का दर्द कम होने लगता है।

आंखों के लिए फायदेमंद (Black pepper to improve eye sight)

आँखों की कमजोरी को दूर करने में भी काली मिर्च बहुत सहायक है। इसके प्रयोग के लिए काली मिर्च को पीस कर इसका चूर्ण बना लें। अब इस चूर्ण को देसी घी में मिलाकर रोजाना खाये। इससे आँखों की कमजोरी दूर होने लगेगी।

ब्लड प्रेशर को काबू करती करे (Black pepper for blood pressure)

ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने के लिए भी काली मिर्च फायदेमंद होती है। इसका प्रयोग करने के लिए एक चम्मच का पाउडर आधे ग्लास पानी में डालकर पीए। इससे ब्लड प्रेशर को आसानी से कंट्रोल किया जा सकता है।

अपच और लूजमोशन का घरेलू इलाज (Home remedy for indigestion and loose motion)

अपच, लूजमोशन, कब्‍ज और एसिडिटी कम करने के लिए काली मिर्च का सेवन कीजिए, यह पाचन शक्ति भी बढ़ाती है। काली मिर्च हाइड्रोक्‍लोरिक एसिड का उत्‍पादन करने में मदद करता है। इस एसिड से पाचन क्रिया सही होती है। यह एसिड सभी भोजन सामग्री को पचाने में सहायक है। इसके सेवन से पेट फूलना, अपच, लूजमोशन, कब्‍ज और एसिडिटी आदि भी आसानी से दूर हो जाते हैं।

वजन कम करने में मददगार (Helpful in weight loss)

यदि आप नियमित रूप से काली मिर्च का सेवन करते हैं तो इससे आपका वजन कंट्रोल हो सकता है। इसमें शक्तिशाली फाइटोन्‍यूट्रीसियंस होते हैं जो वसा की बाहरी परत को तोड़ने में सहायक होते हैं और इससे शरीर में अतिरिक्‍त फैट जमा नहीं हो पाती है। इस प्रक्रिया में पसीना काफी निकलता है, इससे शरीर के टॉक्सिंस बाहर निकलते हैं और वजन कम होता है।

पेट के कीड़े दूर करती है काली मिर्च (Black pepper for stomach worms)

पेट के कीड़ों को खत्म करने के लिए भी काली मिर्च का उपयोग लाभदायक होता है। इसका प्रयोग करने के लिए थोड़ा काली मिर्च पाउडर लें। अब एक ग्लास मट्ठा (बटरमिल्क) में इस काली मिर्च के पाउडर को डाल दें। अब इस मट्ठा को पी लें। इससे पेट के कीड़े खत्म हो जाएंगे।

बवासीर में लाभदायक (Black pepper for Hemorrhoids/piles problem)

बवासीर के रोगो के लिए भी काली मिर्च का प्रयोग करना लाभदायक होता है। इसका प्रयोग करने के लिए थोड़ा जीरा, चीनी और काली मिर्च लें। अब इन तीनो को पीस कर इसने चूर्ण बना लें। अब इस चूर्ण को रोजाना तीन बार खाये। इससे बवासीर की समस्या कम होने लगेगी।