सौंफ की खुशबू किसे नहीं पसंद। हमारे देश में शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति हो, जो सौंफ से परिचित ना हो। घरों में इसका इस्तेमाल मुख्य रूप से एक मसाले के रूप में ही किया जाता है।
इसके अलावा सौंफ में भी ऐंसे कई औषधीय गुण मौजूद हैं, जिनके बारे में शायद आपको अंदाज़ा भी ना हो। इसमें कॉपर, आयरन, कैल्शियम, पोटेशियम, मैंगनीज, सिलेनियम, जिंक और मैंग्निशियम जैसे मिनरल्स पाए जाते हैं।आइये सौंफ के सेवन से होने वाले फायदों को जानते हैं:
साँस की बदबू दूर करे 
सौंफ से आने वाली मनमोहक खुशबू के कारण सौंफ को एक माउथ फ्रेशनर की तरह इस्तेमाल किया जा सकता है। इसमें मौजूद एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-इन्फ्लेमेट्री गुण मुंह के अंदर मौजूद इंफेक्शन पैदा करने पर जीवों का खात्मा करते हैं।
खाना खाने के बाद सौंफ खाएं, इससे साँस की दुर्गन्ध खत्म हो जाएगी। यदि आपको गम्स (मसूढ़ों) से संबंधित कोई समस्या है तो सौंफ को पानी में उबालकर इस पानी से गार्गल करें इससे आपको आराम मिलेगा।
ब्लडप्रेशर कंट्रोल करे (To control blood pressure) 
सौंफ में मौजूद नाइट्राइट और नाइट्रेट नए ब्लड सेल्स को बनने में मदद करते हैं। एक स्टडी के मुताबिक लार में नाइट्राइट की मात्रा को बढ़ाकर नैचुरल ढंग से ब्लडप्रेशर कंट्रोल किया जा सकता है और इसमें सौंफ आपकी काफी मदद कर सकती है। सौंफ के सेवन से आपको जरूरी नाइट्राइट मिलेगी और आपका ब्लडप्रेशर नैचुरल ढंग से कंट्रोल में रहेगा।
एनीमिया से बचाए (to Protect from anemia)
सौंफ में आयरन, कॉपर और हिस्टिडीन ( histidine ) नामक अमीनो एसिड भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं, जो शरीर में रेड ब्लड सेल्स को बढ़ने में मदद करते हैं। इसके सेवन से शरीर में आयरन बढ़ने के साथ-साथ हीमोग्लोबिन की मात्रा भी बढ़ जाती है। यह गर्भवती महिलाओं को एनीमिया से बचाता है।
कैंसर की संभावना कम करे (Reduce the chance of cancer)
इसके सेवन से शरीर में सुपरऑक्साइड डिसम्यूटेज़ (superoxide dismutase) नाम के शक्तिशाली एंटी-ऑक्सीडेंट एंजाइम का उत्पादन होता है, जो कैंसर की संभावना को कम करता है। सौंफ को चबाने से पेट, त्वचा और स्तन कैंसर की संभावना को काफी हद तक कम किया जा सकता है।
वजन कम करने में मदद करे (To help in weight loss)
सौंफ में मौजूद ड्यूरेटिक (diuretic) गुण वजन कम करने में मददगार है। यह शरीर में मेटाबोलिज्म की गति को बढ़ाकर वजन कम करने में मदद करती है। सौंफ और काली मिर्च को मिलाकर इसका सेवन करने से वजन घटता है।
इसके साथ ही कोलेस्ट्रोल का लेवल भी कम करता है।

मुंह के छाले पर असरदार (Effective on oral ulceration) 
अगर आपको मुंह में छाले हो गए हैं, तो ऐसे में सौंफ आपके लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकती है। सौंफ को पानी में मिलाकर पानी के आधा होने तक इसे उबालें। इसमें जरा सी भुनी हुई फिटकरी मिलाकर दिन में दो बार गार्गल करें। इससे छालों में आराम मिलेगा।
आँखों के लिए फायदेमंद (Beneficial for the eyes)
सौंफ का सेवन आँखों की रौशनी बढ़ाने में मदद करता है। इसके लिए हर रोज़ खाना खाने के बाद में सौंफ खाएं या फिर सौंफ और मिश्री को मिलाकर खाएं।
मुँहासों को कम करे और त्वचा को स्वस्थ बनाए (to Reduce acne and maintain healthy skin) 
सौंफ में मौजूद एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-ऑक्सीडेंट गुण त्वचा के लिए बहुत अच्छे माने जाते हैं। यदि आप सौंफ के कुछ दानों को पानी में उबालकर इस मिश्रण को एक टोनर के रूप में इस्तेमाल करते/ती हैं तो इससे
आपको हेल्दी और रिंकल फ्री त्वचा मिलेगी। इसका सेवन बढती उम्र में त्वचा पर होने वाले प्रभावों को भी कम करता है।
कुछ और भी फायदे
*खांसी कम करे।
*खून साफ करे।
*बदहजमी, कब्ज और गैस से राहत दिलाए।
*मासिक धर्म में होनी वाली तकलीफों से राहत दिलाए।
*स्मरण शक्ति बढाए।
*पाचनशक्ति बढाए।