सर्दियों के मौसम में जुकाम और खांसी होना एक आम बात है। और सर्दी एक ऐसी बीमारी है, जो ठंड के दिनों में हर एक इंसान को एक ना एक बार जरुर होती है और हम फिर इसके लिए डॉक्टर की सलाह पर दवाइयाँ भी ले लिया करते हैं। लेकिन कुछ लोगों को यह अक्सर ही खुली और सुबह की ठंडी-ठंडी हवा के सम्पर्क मात्र से भी हो जाया करती है।

ऐसी स्थिति में बार-बार डॉक्टर के पास जाना और इतनी दवाओं का सेवन करना उचित नहीं होगा । इसके बजाय हमारे घर पर ही ऐसे बहुत सारे प्राकृतिक घरेलू उपचार हैं जो बिना किसी दुष्प्रभावों के आपका उपचार करने में कारगर हैं। इसके अलावा अक्सर ही लोग छोटी-छोटी बीमारियों से बचने के लिए महंगी दवाईयां लेते हैं, लेकिन इससे कोई खास फायदा भी नहीं होता है।

आइये हम आपको बताते हैं कुछ घरेलू नुस्खे जिन्हें आजमाकर आप सर्दी-जुकाम से तुरंत छुटकारा पा सकते हैं:

अदरक, तुलसी और कालीमिर्च (Mixture of Ginger, Basil and Black Pepper for Cough, Cold)

अदरक के यूं तो कई फायदे है लेकिन अदरक की चाय सर्दी-जुकाम में भारी राहत प्रदान करती है। अदरक, ठण्ड और गले में सूजन से निपटने का रामबाण इलाज साबित होता है। अदरक को दूसरे पदार्थों के साथ मिलाने के अलावा आप एक आसान प्रक्रिया भी अपना सकते हैं। इसके लिए अदरक के कुछ टुकड़े करें और इन्हें अच्छे से नमक के साथ मिलाएं। जब भी आपको अपने गले में खराश महसूस हो तो अदरक चबाना शुरू कर दें।

सर्दी-जुकाम या फिर फ्लू के लक्षण भी नजर आ रहे हों, इसमें अदरक डालकर बनाई गई चाय आपको काफी राहत दे सकती है। यह नुस्खा आपको सर्दी जुकाम से राहत पाने में तेजी से मदद करता है। इसके अलावा आप चाहें तो इस चाय को बनाने के लिए इसमें अदरक के साथ तुलसी और काली मिर्च भी डाल सकते हैं। ये सब ही इतने प्रभावी हैं कि इनके सेवन मात्र से आपको अंदर से काफी आराम मिलने लगेगा। इन तत्वों को चाय के साथ मिलाने पर सर्दी और खांसी की समस्या से निजात मिलती है।

दूध और हल्दी (Mixture of Milk and Turmeric for Cough, Cold)

हल्दी में एंटी-वायरल और एंटी-बैक्टीरियल गुण होता है जो सर्दी जुकाम से लड़ने में काफी मददगार होता है। हल्दी की तासीर गर्म होती है, जो दूध के साथ मिलकर एक असरदार औषधि बन जाती है। दूध और हल्दी सर्दी और खांसी के सबसे असरदार इलाजों में से एक है। यह खांसी का भी रामबाण इलाज साबित होता है। यह मिश्रण ना सिर्फ वयस्कों, बल्कि बच्चों के लिए भी काफी फायदेमंद साबित होता है।

सर्दी खांसी के अलावा सामान्य स्वास्थ्य बरक़रार रखने के लिए भी यह काफी असरदार साबित होता है। गर्म दूध में एक चम्मच हल्दी मिलाकर पीने से सर्दी जुकाम में तेजी से फायदा होता है। यह नुस्खा ना सिर्फ बच्चों बल्कि बड़ों के लिए भी कारगर साबित होता है।

लहसुन (Garlic for Cough, Cold)

लहसुन सर्दी-जुकाम से लड़ने में काफी मददगार होता है। लहसुन में एलिसिन नामक एक रसायण होता है जो एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-वायरल और एंटी-फंगल गुणों की खान होता है। लहसुन की पांच कलियों को घी में भुनकर खाएं। ऐसा एक दो बार करने से जुकाम में आराम मिल जाता है। सर्दी जुकाम के संक्रमण को लहसुन तेजी से दूर करता है।

गुड़ रखे आपका ख्याल (Jaggery is a Sure Cure)

गुड़ और सर्दी के सम्बन्ध के बारे में तो शायद आप भी बहुत कुछ जानते ही होंगे। इसका इस्तेमाल घरों में बहुत पहले से सर्दी के एक घरेलू उपचार की तरह किया जाता चला आ रहा है। आप चाहें तो आप चाय में शक्कर की जगह पर गुड़ का इस्तेमाल कर सकते हैं या फिर पानी के साथ काली मिर्च, जीरा और गुड़ मिलाकर उबाल लें। यह सर्दी और खांसी का भी काफी अच्छा उपचार है ही साथ ही छाती में जमे कफ को निकालने के लिए यह काढ़ा श्रेष्ठ है।

नींबू और शहद (The Solution of Honey and Lime Juice)

हालाँकि नींबू के बारे में आपने अक्सर यही सुना होगा कि नींबू खाने से सर्दी होती है। लेकिन सच तो ये है कि नींबू और शहद के इस्तेमाल से सर्दी और जुकाम में फायदा होता है। दो चम्मच शहद में एक चम्मच नींबू का रस एक ग्लास गुनगुने पानी या फिर गर्म दूध में मिलाकर पीने से इसमें काफी लाभ होता है।

शहद, दालचीनी और नींबू का मिश्रण (The Combination of Honey, Cinnamon and Lemon)

यह मिश्रण भी सर्दी खांसी दूर करने की एक प्रभावी औषधि है। इन तीनों चीजों को मिलाकर एक सिरप (syrup) बना लें। इससे आपको सामान्य सर्दी और खांसी से लड़ने में काफी आसानी हो जाएगी। इस सिरप को बनाने के लिए एक सबसे पहले एक कढ़ाही लें और इसमें थोड़ा सा शहद डालें। शहद को ज्यादा मात्रा में डालें। इसमें थोड़ा सा नींबू और एक चुटकी दालचीनी मिलाएं। इस सिरप का सेवन करें और सर्दी, खांसी और ज़ुकाम से दूर रहें।

आंवला (Amla is Beneficial)

आंवले में विटामिन सी (Vitamin C) की काफी मात्रा होती है और यही कारण है कि यह आपके स्वास्थ्य के लिए काफी अच्छा होता है। जब आप आंवले का नियमित रूप से सेवन करते हैं तो आपका लिवर (liver) अच्छे से कार्य करता है और इससे आपके रक्त का संचार भी काफी अच्छे से होता है। आंवला आपकी प्रतिरोधक क्षमता को काफी मज़बूत कर देता है और यही कारण है कि आपको इसका सेवन रोज़ करना चाहिए। यह सामान्य कफ और ठण्ड से लड़ने का काफी प्रभावी तरीका है।

गाजर (Carrot is a Common Cold and Cough Fighter)

ज़्यादातर लोग इस बात को नहीं जानते, पर यह सच है कि गाजर का रस सर्दी और खांसी की समस्याओं को दूर करने में पूरी तरह सक्षम है। यह रस स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभदायक होता है। यह बात भी ज़्यादा लोग नहीं जानते कि गाजर के रस से सर्दी खांसी दूर होती है। इसके साथ ही इस रस के प्राकृतिक गुण आपको स्वस्थ रहने और साथ ही साथ अपनी प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में काफी मदद करते हैं।

भाप लेना (Steam Breathing Can Help You)

अक्सर सर्दी खांसी की समस्या के कारण नाक भी बंद हो जाती है। ऐसे में भाप लेते रहें। इसके लिए एक बड़े बर्तन में गर्म उबलता पानी लें और और अपने सिर को एक बड़े तौलिए से ढक लें। अब धीरे धीरे भाप लेते रहें। इसकी मदद से आपकी नाक पूरी तरह खुल जाएगी और आपको साँस लेने में कोई तकलीफ नहीं होगी। इससे आपको सर्दी और खांसी की समस्या होने की भी काफी कम संभावनाएं होंगी। कॉफ़ी (a cup of coffee) जी हाँ कॉफ़ी के गुण आपको सर्दी में गर्माहट का एहसास दिलाने के साथ ही सर्दी से भी राहत दिलाने में मदद करेगी।

तुलसी के पत्ते (Basil Leaves)

तुलसी के पत्ते हर तरह से सर्दी से राहत दिलाने में कारगर हैं। राहत पाने के लिए केवल तुलसी के पत्तों को खा सकते हैं।

आखिर में!!! सर्दी में राहत के लिए ज्यादा दवाइयाँ खाने के बजाय इन नुस्खों का प्रयास करें। लाभ होगा।