गंदगी सिर्फ हमारे आसपास, बाहर और शरीर के ऊपर ही नहीं जमा होती, बल्कि यह शरीर के अंदर भी जमा होती है। कुछ खाध्य पदार्थ, स्मोकिंग, एल्कोहल और ऐसी ही बहुत सारी चीजें हैं जिनकी वजह से शरीर में विषैले पदार्थ जमा हो जाते हैं। इनके कारण बीमारियां होने लगती हैं और शरीर कमजोर हो जाता है, इसलिए शरीर को स्‍वस्‍थ रखने और बीमारियों से बचाने के जरूरी है कि शरीर में जमा इन विषैले पदार्थों को बाहर का रास्‍ता दिखायें। इन टोक्सिंस की वजह से आपको अनिद्रा, तनाव, मुंहासे, आलस, वजन का कंट्रोल से बाहर होना, डिप्रेशन, पाचन बिगड़ना, स्त्रियों में मासिक चक्र का बिगड़ना और दिमागी कमजोरी जैसी परेशानी सामने आने लगती है। शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालकर आप एक स्वस्थ जिंदगी जी सकते हैं। कुछ खाद्य पदार्थ ऐसे भी हैं, जो आपके शरीर और लिवर (liver) को शुद्ध करते हैं और आपमें एक नई ऊर्जा का संचार करते हैं।
आइये जानते हैं नैचुरल डेटोक्सिफायर के बारे में:

शरीर की अशुद्धियाँ दूर करने के लिए लहसुन (Garlic)

शरीर से टोक्सिन निकालने की प्रक्रिया में लहसुन आपकी काफी मदद कर सकता है। लहसुन में एंटी-वायरल एंटीसेप्टिक और एंटीबायोटिक गुण होते हैं। इसके साथ ही लहसुन में भरपूर मात्रा में सल्फ्यूरिक तत्व मौजूद होते हैं जिससे यह एक बेहतरीन डेटॉक्सिफायर बनता है। ये तत्व शरीर में ग्लूथाथीओन नामक एंटी-ऑक्सीडेंट के निर्माण में सहायक होते हैं। ये शरीर में मौजूद रसायन और भारी धातु सहित अन्य विषैले तत्वों को भी बाहर निकाल देते हैं। खाने के साथ एक-दो कली कच्चे लहसुन की खाएं।

अदरक (Ginger)

अदरक में काफी सारे औषधीय गुण होते हैं, जिनका प्रयोग बहुत पहले से जाता रहा है। इसमें कई प्रकार के स्वास्थ्यकर गुण होते हैं और आप इनका पूरी तरह फायदा उठा सकते हैं। आप पानी के उबलने के दौरान चाय में अदरक डाल सकते हैं, इससे चाय तो बेहतरीन बनेगी ही साथ ही आपको अदरक के स्वास्थवर्धक गुण भी मिल जाएँगे। अदरक का इस्तेमाल आप खाने को स्वादिष्ट बनाने के लिए भी आसानी से कर सकते हैं। जहाँ तक हो सके इसे कच्चा ही इस्तेमाल करने की कोशिश करें। आप चाहें तो इसे किसी चटनी में मिलाकर इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे भी आपके शरीर से अशुद्धियाँ बाहर निकालने में काफी सहायता मिलेगी।

नींबू (Lemons)

नींबू शरीर में एंजाइम की मात्रा को बढ़ाता है और साथ ही टॉक्सिन्स को द्रव्य के रूप में बदलकर शरीर से आसानी से निकालने में मदद करता है। सुबह-सुबह सबसे पहले खाली पेट नींबू का पानी पियें।

बंदगोभी (Cabbage)

बंदगोभी एक बेहद आम सब्ज़ी है, जिसे हम काफी ज़्यादा प्रयोग में लाते हैं। ये काफी स्वादिष्ट और स्वास्थ्यकर भी होती है। गोभी का सबसे ज़्यादा फायदा शरीर को तब होता है, जब इनका सेवन सलाद के रूप में किया जाए। इसमें कोलेस्ट्रोल (cholesterol) की मात्रा काफी कम होती है और इससे आपके लिवर को काफी फायदा पहुंचता है। निरंतर रूप से गोभी का सेवन करने से आपका मलाशय (excreting system) बिल्कुल स्वस्थ रहता है, और इसके फलस्वरूप शरीर की अशुद्धियाँ दूर होती हैं।

एवोकैड़ो (Avocados)

एवोकैड़ो एंटी ऑक्सीडेंट (antioxidant) से भरपूर होते हैं, और इसी की वजह से ये शरीर की अशुद्धियों को दूर करने में हमारी सहायता करते हैं। ज़्यादातर लोग शुरुआत में इसे खाने से हिचकिचाते हैं और ऐसा इसलिए क्योंकि इसमें काफी मात्रा में वसा होता है। लेकिन अच्छे और खराब वसा में काफी अंतर होता है, और आप दोनों को एक रूप से नहीं देख सकते। अगर आपने रस और जैविक एवोकैड़ो का चयन किया है, तो इससे आप निश्चित रूप से शरीर की अशुद्धियों को दूर कर सकते हैं।

शरीर की अशुद्धियाँ दूर करने के लिए हल्दी (Turmeric)

हल्दी में करक्यूमिन (curcumin) नामक पदार्थ होता है जो इसके पीले रंग का कारण होता है। यह पदार्थ से शरीर के टॉक्सिन्स निकालने में मदद करता है। करक्यूमिन का आयुर्वेदिक दवाइयों में किडनी की और हाज़मे की बीमारियां ठीक करने मे प्रयोग किया जाता है। हल्दी को किसी ना किसी तरह से अपनी डाइट में शामिल कर लें।

ग्रीन टी (Green tea)

ग्रीन टी आपके शरीर से विषैले पदार्थों को निकालने के लिए सबसे कारगर तत्व है। ग्रीन टी का रोज़ाना सेवन करने से आपका शरीर स्वस्थ रहता है और आपको हल्कापन भी महसूस होता है। यह एंटी-ऑक्सीडेंट्स (anti-oxidants) से भरपूर होती है, जो आपके शरीर की अशुद्धियाँ निकालने के लिए जरूरी तत्वों में से एक है। यह आपके शरीर की कोशिकाओं को खराब होने से बचाती है, क्योंकि इसमें मौजूद तत्व आपके शरीर के फ्री रेडिकल्स (free radicals) से लड़ने में काफी कारगर साबित होते हैं। यह बाकी सारे पेय पदार्थों जैसे चाय, काफी में से एक है अच्छा विकल्प है।

ब्रोकली (Broccoli)

ब्रोकली एक काफी पोषण प्रदान करने वाली सब्ज़ी है। ये न सिर्फ देखने में आकर्षक लगती है, बल्कि इनसे आपके शरीर को भी काफी फायदा प्राप्त होता है। ब्रोकली में एंजाइम (enzyme) होते हैं, जो काफी आसानी से आपके शरीर की अशुद्धियों को निकाल बाहर करने की क्षमता रखते हैं। उबली या कच्ची ब्रोकली आपके शरीर से सबसे ज़्यादा प्रभावी रूप से अशुद्धियों को निकालने की क्षमता रखती है।

चुकंदर/बीटरूट (Beetroot)

बीटरूट में प्रचुर मात्रा में विटामिन B 3, B 6 और बीटा कैरोटीन मौजूद होते हैं। इनमें आयरन, मैग्नीशियम, जिंक एवं कैल्शियम की काफी मात्रा होती है जो शरीर के टॉक्सिन्स को निकालने और शरीर स्वस्थ रखने में काफी बड़ी भूमिका निभाते हैं। इसके साथ ही बीटरूट में फाइबर की भी काफी ज़्यादा मात्रा होती है जिससे हाज़मे में सहायता मिलती है और शरीर की सारी गन्दगी दूर होती है। बीट पित्ताशय और किडनी को स्वस्थ रखते हैं जो कि शरीर से टॉक्सिन्स ख़त्म करने के मुख्य अंग हैं।

आखिर में!!! पानी भी शरीर से गंदगी निकालने में काफी मदद करता है। इसलिए भरपूर मात्रा में पानी पियें।