दांत का दर्द काफी तकलीफ देता है यह हर किसी को उम्र के किसी न किसी पड़ाव में सहना ही पड़ता है। दांतों में दर्द होने की वजह कई होती है, जैसे दांतों में कीड़े लगना या दांतों की जड़ों का ढीला पड़ जाना आदि। कुछ लोग मजे-मजे में दांतों में स्टिक डाल लेते है जिससे उनके दांतों में गैप हो जाता है, इससे भी दर्द होने लगता है। ये दर्द काफी असहनीय भी होता है। इस दर्द से जल्द से जल्द छुटकारा पाने के लिए लोग बहुत तरह की दर्द निवारक दवाईयाँ लेते हैं, लेकिन इस तरह की दवाईयों से बचना ही अच्छा होता है। जहाँ तक हो सके इस दर्द से बचने के लिए घरेलू उपचार लेने की कोशिश करें। आइये जानते हैं दांत दर्द के निवारण के घरेलू तरीकों के बारे में:

लौंग का इस्तेमाल करें (Use cloves)

जब भी आपके दांतों में दर्द हो, तो लौंग को दांतों के बीच दबा कर रखें, इससे दर्द में काफी आराम मिलेगा। लौंग में काफी मात्रा में एनेस्थेटिक और एनलगेसिक (analgesic) या दर्द निवारक गुण होते हैं, जो दर्द को दूर भगा देते हैं। दिन में दो से तीन बार लौंग को रखना चाहिए और इस दौरान कुछ भी न खाएं।

लहसुन का इस्तेमाल करें (Use garlic)

दांत दर्द में लहसुन आपकी काफी मदद कर सकती है। दर्द के वक़्त अगर लहसुन को छीलकर उसकी कलियों को चबाया जाएं, तो दांतों के दर्द में आराम मिलता है। दिन में दो बार दो-दो कलियों को चबाने से जल्‍दी ही दर्द से छुटकारा मिल जाता है।

प्‍याज का इस्तेमाल करें (Use onion)

प्‍याज में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं जो दांतों के दर्द से राहत दिला सकते हैं। इसे कच्‍चा खाने से दांतों के दर्द में आराम मिलता है। अगर आपके दांतों में दर्द इतना ज्‍यादा है आप इसे कच्‍चा नहीं खा सकते हैं तो इसका रस निकालकर दांतों में लगा लें।

हींग का इस्तेमाल करें (Use asafoetida)

हींग में कई तरह के आयुर्वेदिक गुणों की कहाँ है। इसमें कई एंटी-इंफ्लामेट्री, एंटीसेप्टिक गुण होते हैं, जो दांतों से दर्द में राहत प्रदान करते है। इसके इस्‍तेमाल के लिए आप हींग को बहुत कम मात्रा में लें और उसे दर्द वाली जगह पर लगा लें या इसे एक चौथाई पानी में घोल बनाकर माउथवॉश की तरह इस्‍तेमाल करें।

नमक इस्तेमाल करें (Use salt)

दांतों में दर्द होने पर पानी को हल्‍का गुनगुना करके उसमें नमक डाल लें और गरारा करें, और मुंह में भरकर कुछ समय के लिए सेंक दें। इससे दांतों का संक्रमण दूर हो जाएगा और आपको दर्द से निज़ात मिल जाएगा। सुबह ब्रश करते समय भी आप नमक वाले पानी का ही इस्‍तेमाल करें।

तेजपत्‍ता

तेजपत्‍ता एक प्राकृतिक दर्द निवारक है जो तुरंत ही दर्द से आराम दिला देता है। इसमें कई औष‍धीय गुण होते हैं जो दांतों की सड़न, बदबू आदि को दूर कर देता है। अगर किसी को मुंह में छाले हैं या किसी प्रकार का घाव है या खून आ रहा हो, तो तेजपत्‍ते को पीसकर उसमें नमक मिला लें इस मिश्रण को मुंह में भरे और फिर बाहर निकाल दें। दिन में दो बार ऐसा करने से दर्द छूमंतर हो जाएगा।

अमरूद की पत्तियां (Guava leaves)

अमरूद की ताजा कोमल पत्तियों को तोड़ लें और उन्‍हे दांतों में दर्द वाले हिस्‍से पर रखकर दबा लें, इससे दर्द में काफी राहत मिलेगी। हर दिन चार बार ऐसा करने काफी राहत मिलती है। आप चाहें तो इन पत्तियों को एक कप पानी में उबालकर उस पानी को माउथवॉश की तरह इस्‍तेमाल कर सकते हैं।

गेंहू की घांस (Wheat Grass)

गेंहू के दानों को एक गमले में रोप दें और एक अंगुल होने पर उसे काट लें। यह घास दांतों के दर्द में काफी राहत देती है इसमें बैक्‍टीरिया को मारने के काफी अच्‍छे गुण होते हैं। इसे पीस लें और इसका रस दांतों में लगा लें। बाद में गुनगुने पानी से कुल्‍ला कर लें।

वनिला रस (Vanilla juice)

वनिला में एल्‍कोहल की मात्रा काफी कम होती है, इसमें एंटीऑक्‍सीडेंट ज्‍यादा मात्रा में होता है इसके इस्‍तेमाल से भी दर्द में राहत मिलती है। सबसे पहले वनीला की 2-4 बूंदे एक कॉटन बॉल में लें। उसे अपने दर्द वाले दांतों के बच रखें और 15 मिनट बाद निकाल लें। ऐसा दिन में 2 से 3 बार करें।

पिपरमेंट

पिपरमेंट से भी दांतों का दर्द दूर हो जाता है, खासकर उम्र बढ़नेपर होने वालों दांतों का दर्द भी पिपरमेंट से ही ठीक होता है। पिपरमेंट ऑयल की कुछ बूंदों को दर्द वाले हिस्‍से पर डाल लें और फिर गर्म पानी से गरारा कर लें। आप चाहें तो पिपरमेंट ऑयल की कुछ बूंदों को पानी में डालकर माउथवॉश की तरह भी इस्‍तेमाल कर सकते हैं।