सौंदर्य विशेषज्ञों के अनुसार टी ट्री ऑयल हमारे चेहरे और सौंदर्य के लिए काफी फायदेमंद होता हैं। यह एक तेल कई तरह के फायदों से भरा हुआ है,और एक एंटी-सेप्टिक,एंटी-वायरल एवं एंटी-फंगल औषधि के रूप में भी काम करता है। टी ट्री ऑइल का रंग काफी साफ़ होता है या फिर हल्के सुनहरे तक होता है, और इसमें से कपूर(Camphor) जैसी खुशबू भी आती है। आइये जानते हैं टी ट्री ऑइल के फायदों के बारे में:

मुंहासे कम करे (Reduce Acne)

अगर आप अक्सर मुँहासों की समस्या से परेशान रहते हैं और आपके चेहरे पर काफी लंबे समय से मुंहासे होते आ रहे हैं तो इसके लिए आप टी ट्री ऑयल का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसमें एंटीसेप्टिक के गुण होते हैं जो कि मुंहासों का इलाज करते हैं। इसके लिए शहद और दही को मिलाकर उसमें टी ट्री ऑयल की कुछ बूंदें डाल लें। इसके बाद इस पेस्ट को चेहरे पर लगाएं। 15 मिनट तक इस पेस्ट को चेहरे पर लगाने के बाद ठंडे पानी से धो लें। कुछ दिनों में आपको फर्क अपने आप नजर आने लगेगा।

टी ट्री ऑइल और शहद को मिलाकर चेहरे पर लगाने से चेहरे से मुँहासों को हटाया जा सकता है। एक चम्मच टी ट्री ऑइल में दो चम्मच शहद मिलाकर एक पेस्ट तैयार करें और इसे चेहरे पर लगाएं। और 15 मिनट के बाद चेहरा धो लें। इससे आपको चेहरे की समस्याओं से निजात तो मिलेगा ही साथ आपका चेहरा ग्लो भी करेगा।

आइये देखते हैं इस विडियो में कि कैसे टी ट्री ऑयल का उपयोग कर आप मुहांसों से छुटकारा पा सकते हैं। जिद्दी मुहाँसों/पिम्पल्स से छुटकारा, Get Rid Of Acne & Acne Marks, Simple Tips & Tricks

पसीने की बदबू हटाए (Beats Body Odor)

धूल मिटटी और प्रदूषण आपकी त्वचा पर असर डालते हैं, जिसकी वजह से पसीना और पसीने की बदबू की समस्या होती है। रोज़ाना नहाते वक़्त नहाने के पानी में टी ट्री ऑइल मिला लें या फिर टी ट्री ऑयल बेस्ड साबुन का इस्तेमाल करें। इससे आपकी पसीने की बदबू की परेशानी आसानी से चली जाएगी। टी ट्री ऑयल बेस्ड साबुन में एंटी माइक्रोबियल गुण भी होते हैं जिनकी वजह से आप लम्बे समय तक तरोताज़ा महसूस करेंगे।

इन्फेक्शन दूर करे (Removal of Infections)

हमारे आसपास ऐसे ना जाने कितने ही एंटीसेप्टिक प्रोडक्ट मौजूद हैं ऐसे ही टी ट्री ऑइल प्रकृति में पाये जाने वाले सबसे प्रभावी एंटीसेप्टिक प्रोडक्ट में से एक है। इस टी ट्री ऑयल में किसी भी तरह के इंफेक्शन को दूर करने के गुण होते हैं। अगर आपको शरीर पर कहीं भी कट या छिल गया है या फिर किसी तरह का कोई घाव हो गया है तो अच्छे परिणामों के लिए उस पर टी ट्री आयल लगाएं।

नाखूनों को खूबसूरत बनाए (Maintain Beautiful Nails)

रोज़ाना टी-ट्री ऑयल इस्तेमाल कर के, आप हर तरह के नेल इंफेक्शन्स से छुटकारा पा सकती हैं। और साथ ही मज़बूत और चमकदार नाखून भी पा सकती हैं।
इसके लिए टी-ट्री ऑयल को अपने नाखूनों पर दिन में दो बार इस्तेमाल करें।

बालों की जड़ें बनें मजबूत करे (Strengthen Hair Roots)

टी ट्री ऑइल बालों के लिए काफी लाभदायक है टी ट्री ऑयल बालों की जड़ों को मजबूत बनाता है, जिससे बालों का झड़ना कम हो जाता है। इसे लगाने से बालों में रूखेपन की भी समस्‍या दूर हो जाती है। इसके साथ ही टी ट्री ऑयल सिर की गंदगी को भी साफ करता है और रोम छिद्रों को खोलता है। बंद और गंदगी से भरे रोम छिद्रों की वजह से बालों की ग्रोथ ठीक से नहीं हो पाती। इसके एंटीबैक्‍टीरियल और एंटीफंगल गुण स्कैल्प पर मौजूद फंगस और बैक्‍टीरिया को खत्म करते हैं, जिसकी वजह से रूसी दूर होती है।

जूँओं से निजात दिलाए (Get Rid of Lice)

लम्बे बालों में और छोटे बच्चों के बालों में जूँओं की समस्या होना काफी आम बात है इसकी वजह से आप काफी परेशान भी रहते हैं। इस परेशानी से निजात पाने के लिए आप टी ट्री ऑयल का इस्तेमाल कर सकती हैं। इसके लिए रोजाना इस्तेमाल करने वाले शैम्पू में टी ट्री ऑइल की कुछ बुंदे डाल कर लगाएँ। या फिर आप बाजार से ऐसा कोई शैम्पू खरीद लें, जो 5% टी ट्री के गुण लिए हो।

बालों में ऑइल कंट्रोल करे (Control Oily Hairs/Scalp with Tea Tree Oil)

सिर से अत्‍यधिक तेल निकलने के कारण तो पोर्स बंद हो जाते हैं जिसकी वजह से बाल गिरने और कमजोर होने लगते हैं। टी ट्री ऑयल ना केवल सिर की त्वचा को मॉइस्‍चराइज़ करता है बल्‍कि सिर से अत्‍यधिक तेल को निकलने से भी रोकता है।

आइये जानते हैं अपने ऑयली, चिपचिपे बालों से छुटकारा पाने के लिए “होममेड हेयर सीरम” घर पर बनाने का तरीका, 100% Cure, Amazing “HOMEMADE HAIR SERUM” for Oily, Sticky Hairs, Get Rid of Dandruff, Itchy Scalp

रेज़र कट्स में आराम (Get Relief in Razor Cuts with Tea Tree Oil)

अगर शेव करते वक्त रेज़र से चोट लग गई है, तो ऐसे में टी-ट्री ऑइल को किसी भी दूसरे तेल के साथ समान मात्रा में मिलाकर कटी हुई जगह पर लगाने से आराम मिलेगा। ये कटे भाग को को ठंडक पहुंचाएगा। ऑइल को कटी जगह पर लगाने के बाद एक घंटे के लिए छोड़ दें।