लिवर (Liver) यानि यकृत मानव शरीर की सबसे बड़ी ग्रंथि और दूसरा सबसे बड़ा अंग है और सबसे महत्वपूर्ण अंगों में से एक है, क्योंकि यह रक्त से विषाक्त पदार्थों को निकालने के लिए या शरीर के डी-टॉक्सीफिकेशन (detoxification) का जिम्मेदार है। लिवर पाचन तंत्र से खून को फ़िल्टर करने का काम करता है। लिवर की सेहत को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता , क्योंकि हमारे शरीर का पूरा स्वास्थ्य लिवर पर निर्भर होता है। आजकल की जीवनशैली और शराब आदि नशे की वजह से लिवर से जुड़ी हुई बीमारियाँ तेज़ी से बढ़ रही हैं। यदि लिवर ख़राब हो जाए तो फिर इसके ट्रांसप्लांट के अलावा और कोई विकल्प नहीं होता। जीवनशैली और दिनचर्या में बदलाव लाकर लिवर को स्वस्थ रखा जा सकता है। आइये जानते हैं लिवर को स्वस्थ्य रखने के घरेलू नुस्खों के बारे में:

लहसुन (Garlic)

लहसुन की मात्र एक कली में भी लिवर को स्वस्थ रखने के गुण होते हैं। इसमें एलिसिन और सेलेनियम (allicin and selenium) जैसे तत्व मौजूद होते हैं, जिनमें प्राकृतिक रूप से लिवर की सफाई करने के गुण होते हैं। ये शरीर में मौजूद हानिकारक पदार्थों (टोक्सिंस) को बाहर निकालने में मदद करता है।

पानी और शहद (water and honey)

सुबह उठकर सबसे पहले खाली पेट गुनगुने पानी में शहद मिलाकर पीने से सेहत को काफी फायदा होता है। इसके सेवन से शरीर को काम करने की शक्ति भी मिलती है और ऊर्जा का स्तर बना रहता है।

हल्दी (turmeric)

लिवर को स्वस्थ रखने में हल्दी अहम् भूमिका अदा करती है। इसमें एंटीसेप्टिक गुण मौजूद होते हैं और यह एक एंटीऑक्सीडेंट की तरह कार्य करती है। हल्दी रोगनिरोधक क्षमता (immunity) को बढाती है। हल्दी को अपनी डाइट में शामिल करें या फिर रात को सोने से पहले 1 गिलास गर्म दूध में हल्दी डालकर पियें।

विटामिन C (Vitamin C)

ऐसी चीज़ें जिनमे विटामिन C और एंटीऑक्सीडेंट्स मौजूद हो उनका अधिक मात्रा में सेवन करें। जैसे कि अंगूर में प्रचुर मात्रा में विटामिन C और एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं। अंगूर लिवर को प्राकृतिक रूप से साफ रखने की प्रक्रिया को सुचारू रूप से चलाता है। अंगूर का रस या अंगूर का जूस शरीर के अंदर मौजूद टोक्सिंस को बाहर निकालने में मदद करता है। इसमें फ्लवोनोइड (flavonoid) कंपाउंड जिन्हे नरिंगेनिन (naringenin) के नाम से जाना जाता है भी पाए जाते हैं जो आपके लिवर द्वारा फैट का संग्रह करने की बजाय उसे जला देते हैं। नींबू में विटामिन C की अधिकता होती है, जो टोक्सिंस को बाहर निकालने के लिए इन्हें पानी में घुलनशील पदार्थों में बदल देते हैं और इन्हें बाहर निकालने में सहायता करते हैं। सुबह-सुबह ताज़े नींबू का रस पानी के साथ पीने से आपका लिवर स्वस्थ होता है। आंवला भी विटामिन C से भरपूर होता है। ये लिवर को सुरक्षित रखने का काम करता है। रोजाना किसी ना किसी तरह आंवला जरुर खाएं।

हरी-पत्तेदार सब्जियां (Leafy Green Vegetables)

हरी पत्तेदार सब्जियों में मौजूद क्लोरोफिल टोक्सिंस पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करते हैं। इनमें बीटा कैरोटीन (beta carotene) पाए जाते हैं, जो लिवर की कोशिकाओं को स्टिमुलेट करते हैं और लिवर को विषाक्त पदार्थों से बचाता है। इन सब्जियों को कच्चा, पकाकर या फिर जूस बनाकर भी इस्तेमाल किया जा सकता है। ये लिवर को स्वस्थ रखने में भी काफी सहायता करती हैं।

अखरोट (Walnut)

अखरोट में मौजूद एमिनो एसिड आर्जीनीन (arginine), अमोनिया को डीटोक्सीफाय करने में मदद करता है। इसके साथ ही अखरोट में ग्लूटाथिओन (glutathione) और ओमेगा-3 फैटी एसिड की अधिकता होती है, जो प्राकृतिक रूप से लिवर की सफाई करते हैं। अखरोट को अच्छी तरह से चबा-चबाकर खाएँ।

सेब (Apple) और एप्पल साइडर विनेगर (Apple Cider Vinegar)

सेब के अंदर शरीर के टोक्सिंस को बाहर निकाल सकने के गुण मौजूद होते हैं। एप्पल साइडर विनेगर, लिवर में मौजूद टोक्सिंस को बाहर निकालने में मदद करता है।
इसके साथ ही भोजन करने से पहले एप्पल साइडर विनेगर का सेवन करने से शरीर की चर्बी कम होती है। एप्पल साइडर विनेगर को पानी में मिलाकर या शहद के साथ मिलाकर लें।

और भी चीज़ें जिन्हें आहार में शामिल करके आपके लिवर को स्वस्थ रखा जा सकता है:

*सल्फर से भरपूर पदार्थ जैसे कि अंकुरित अनाज, पत्तागोभी, ब्रोकली जैसी सब्जियों का सेवन करें।
*जैविक खाध्य पदार्थों का सेवन करें।
*तले हुए पदार्थों से दूरी बना लें।
*क्षमता से अधिक भोजन ना करें।
*पपीता खाएं।
*मुलेठी का सेवन करें।
*एवोकैड़ो को अपने आहार में शामिल कर लें।
*पालक और गाजर का सेवन करें।
*अलसी के बीज का सेवन करें।ध्यान रखें!!! यदि आप सच में अपने लिवर को स्वस्थ रखना चाहते हैं तो अल्कोहल जैसे विषाक्त पदार्थों के सेवन से बचें।