Sun. Sep 26th, 2021
    दही फेसिअल

    उम्र बड़ने के साथ साथ उसका असर हमारे फेस पर भी दिखता है। लेकिन क्या आप जानती हैं कि उम्र के साथ दिखने वाले असर को आप कम कर सकती हैं? और अपने चेहरे को साफ़, सुन्दर और चमकदार बना सकती हैं। लेकिन आजकल बढ़ता प्रदूषण, अच्छे खानपान की कमी और ज़रूरत से ज्यादा केमिकल्स के उपयोग से भी हमारी स्किन पर झुर्रियाँ (wrinkles), झाईयाँ (fine lines), पिम्पल्स (pimples), और पिगमेंटेशन (pigmentation) का होना एक आम बात हो गयी हैं।

    वैसे तो मार्केट में और पार्लर में आपको कई तरह के फेशियल (facial) और क्रीम ऑफर किये जाते हैं, लेकिन ये बहुत महंगे होते हैं जिन्हे आप चाहकर भी इस्तेमाल नहीं कर पाती। तो आप दही (curd) से घर पर आसानी से फेशियल (facial) कर सकते हैं। दही में नेचुरली लैक्टिक एसिड (lactic acid) होता है जो न सिर्फ डेड स्किन को हटाकर आपकी स्किन को जवाँ, स्मूद और मुलायम बनाता है, बल्कि इसमें मौजूद एसेंशियल फैट्स (essential fats), प्रोटीन, विटामिन्स और मिनरल त्वचा को अंदर से नमी देकर उसे हेल्दी बनाते हैं। इसके एंटीबैक्टीरियल गुण (anti-bacterial properties) आपको ब्लैकहेड्स, वाइटहेड्स और पिम्पल्स से छुटकारा दिलाने में भी मदद करते हैं।

    यहाँ पर आप जानेगे अपने चेहरे को साफ, सुन्दर, गोरा और चमकदार बनाने के लिए एक बहुत इफेक्टिव दही फेशियल (Curd facial) के बारे में जो करने में बहुत आसान है और इसमें इस्तेमाल होने वाली सारी चीज़े आपको घर पर ही मिल जाएगी। जो आपकी स्किन की सारी समस्याओं को ख़त्म करने में काफी असरदार हैं। फिर चाहे वो समस्या पिगमेंटेशन (pigmentation) से रिलेटिड हो, चेहरे पर काले-धब्बों (black-spots) का दिखना हो, झुर्रियों (wrinkles), झाइयों (fine lines) का दिखना हो, उम्र के साथ स्किन का लूज (loose) हो जाना हो, सेगी (saggy) हो जाना हो, आँखों के चारो तरफ काले-निशान या गर्दन का कालापन हो, गर्दन में बहुत ज्यादा झुर्रियाँ हो इन सभी से छुटकारा दिलाने में ये फेशियल बहुत ज्यादा इफेक्टिव है। इस फेशियल (facial) को करने के बाद आपको बहुत जवां और खिली हुई स्किन मिलेगी। ये आपके चेहरे पर जो रूखापन और कालापन आ जाता हैं उससे आपको छुटकारा दिलाने में बहुत इफेक्टिव हैं।

    आइए जानते हैं इस फेशियल (facial) को करने की स्टेप्स के बारे में –

    फेस क्लींजिंग को करने के लिए हम बनाएगे एक फेस क्लींजिंग क्रीम और इस क्लींजिंग रेमेडी को बनाने के लिए आपको बस दही चाहिए-

    Advertisements

    दही में मौजूद लैक्टिक एसिड नैचुरली स्किन को पील (peel) करता हैं मतलब डेड स्किन (dead skin) को हटाता हैं रिजल्टेंट आपकी स्किन साफ़, सुधरी, बेदाग़ और गोरी बनती हैं इसके साथ ही ये पिम्पल कॉसिंग बैक्टीरिया (pimple causing bacteria) को मारता हैं और पोर्स (pores) को अंदर से क्लीन करता हैं जिससे की अगर ब्लैकहेड्स (blackheads) और पिम्पल्स (pimples) की समस्या आपको हैं तो उसमे आपको फायदा मिलता हैं।

    तो सिर्फ दही को क्लींजिंग क्रीम (cleansing cream की तरह इस्तेमाल करना है और इस क्लींजिंग क्रीम को अपने चेहरे पर लगाने से पहले अपने चेहरे को साफ़ कर लें, किसी भी तरह का मेकअप या क्रीम आपकी स्किन पर नहीं होनी चाहिए इसलिए ठन्डे साफ़ पानी से अपना चेहरा धो लें और फिर इसके बाद इस क्लींजिंग रेमेडी (cleansing remedy) को अपने चेहरे पर लगा लें और करीब 5 मिनट के लिए इसको लगा रहने दें। इसके बाद हलके-हलके हाँथो से मसाज करते हुए साफ़ पानी से चेहरा धो लें।

     

    फेस स्क्रब (Face scrub)

    फेस स्क्रब को बनाने के लिए आपको चाहिए-

    दही (Curd): दही में लैक्टिक एसिड त्वचा को एक्सफोलिएट करता है जिससे बहुत ही effectively dead skin बाहर निकलती है, पोर्स अंदर तक क्लीन होते हैं और त्वचा मुलायम और साफ़ बनती है।

    शक्कर (Suagr)- शक्कर (Sugar) वन ऑफ़ दी बेस्ट क्लीन्ज़र (cleanser) मानी जाती है ये आपके चेहरे से डेड स्किन को हटा कर न्यू सेल रीजेनरेशन (new cell regeneration) को प्रमोट करती हैं। शक्कर नैचुरल स्क्रब (scrub) की तरह भी इस्तेमाल की जाती हैं। ये स्किन की नमी का बैलेंस बनाने के लिए बहुत इफेक्टिव हैं।

    तो चलिए जानते हैं इस फेस स्क्रब को बनाना और इस फेस स्क्रब को बनाने के लिए आपको चाहिए –
    1 चम्मच दही
    1 चम्मच शक्कर

     

    ये सारे वो इंग्रीडिएंट हैं जो आपके फेस में ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाएगे हैं, डेड स्किन को बहुत जेन्टली हटाएँगे और रिजल्टेंट आपको बहुत साफ़, सुधरी और मुलायम त्वचा मिलेगी। इस फेस स्क्रब से आपको अपने फेस की बहुत हलके-हलके हाँथो से 5 से 10 मिनट के लिए मसाज करनी हैं और बिलकुल भी रगड़ना नहीं हैं और इसके बाद गर्म पानी में तौलिया डुबोकर अपने चेहरे को साफ़ कर ले।

     

    फेस मसाज क्रीम (Face massage cream)

    फेस मसाज को करने के लिए हम बनाएंगे एक बहुत अच्छी फेस मसाज क्रीम और इस क्रीम को बनाने के लिए आपको चाहिए।

    दही (Curd): दही (Curd) में लैक्टिक एसिड (Lactic acid) होता हैं। दही नैचुरली स्किन को पील (peel) करता हैं मतलब डेड स्किन (dead skin) को हटाता हैं रिजल्टेंट आपकी स्किन साफ़, सुधरी, बेदाग़ और गोरी बनती हैं इसके साथ ही ये पिम्पल कॉसिंग बैक्टीरिया (pimple causing bacteria) को मारता हैं और पोर्स (pores) को अंदर से क्लीन करता हैं जिससे की अगर ब्लैकहेड्स (blackheads) और पिम्पल्स (pimples) की समस्या आपको हैं तो उसमे आपको फायदा मिलता हैं।

     

    एलोवेरा जेल (Aloe Vera gel): एलोवेरा जेल (Aloe Vera gel) अपनी नेचुरल एंटी-बैक्टीरियल (anti-bacterial) और एंटी-फंगल (anti-fungal) प्रॉपर्टीज की वजह से अगर आपकी स्किन पर इन्फेक्शन (infection) हो, पिम्पल्स (pimples) हो रहे हो, ब्लैकहेड्स (blackheads) हो रहे हो और वाइटहेड्स (whiteheads) हो रहे हो तो उन्हें ठीक करने में और आपकी त्वचा के टेक्सचर को इम्प्रूव करने के लिए बहुत अच्छा होता हैं। आपकी स्किन पर किसी तरह का कालापन हो, किसी तरह के दाग-धब्बे (stains) हो या काले-निशान (black-spots) हो तो इन सभी को ठीक करने में एलोवेरा जेल बहुत मददगार होता हैं।

     

    विटामिन इ जेल कैप्सूलस (Vitamin E gel capsules): विटामिन इ (Vitamin E) वन ऑफ़ दी बेस्ट एंटी-एजिंग (anti-aging) विटामिन होता हैं। विटामिन इ आपकी स्किन को नैचुरली मॉइस्चराइज (moisturize) करता हैं, नॉरिश (nourish) करता हैं जिससे की आपकी त्वचा पर एक अच्छी चमक (shine) आती हैं और आपकी त्वचा नरम और मुलायम बनती हैं। अगर आपकी स्किन पर पिगमेंटेशन की प्रॉब्लम हैं, कालापन (darkness) या टैनिंग (tanning) की प्रॉब्लम हैं और किसी भी तरह की प्रॉब्लम को नारियल का तेल ठीक करता हैं। विटामिन इ के कैप्सूल्स हम यहाँ पर ले रहे हैं तो इन्हे प्रिक करके इनके अंदर का जेल आप इस रेमेडी में मिला ले।

     

    तो चलिए जानते हैं इस मसाज क्रीम को बनाना और इस मसाज क्रीम को बनाने के लिए आपको चाहिए –

    1 चम्मच दही
    1 चम्मच एलोवेरा जेल
    1 से 2 विटामिन इ जेल कैप्सूल्स

    अब इन सभी चीज़ो को आपस में अच्छी तरह से मिला ले और आपकी फेस मसाज क्रीम फेस पर मसाज करने के लिए बिलकुल तैयार हैं। अब इस फेस मसाज क्रीम से अपने चेहरे की मसाज करना शुरू कर दे और कम से कम 10 से 15 मिनट के लिए इस फेस मसाज क्रीम से अपने फेस की मसाज करे।

    डीटोक्सीफाईंग पैक (Detoxifying pack)-

    ये पैक आपके रंग को निखारने के लिए, आपके टोन को इम्प्रूव करने के लिए और साथ ही जितनी भी प्रॉब्लम आपकी स्किन पर हैं झुर्रियाँ (wrinkles), झाईयां (fine lines), ब्लेमिशिस सभी को ठीक करने मे बहुत इफेक्टिव होगा। इस पैक को बनाने के लिए आपको चाहिए –

    दही (Curd): दही में लैक्टिक एसिड (Lactic acid) होता हैं। दही नैचुरली स्किन को पील (peel) करता हैं मतलब डेड स्किन (dead skin) को हटाता हैं रिजल्टेंट आपकी स्किन साफ़, सुधरी, बेदाग़ और गोरी बनती हैं इसके साथ ही ये पिम्पल कॉसिंग बैक्टीरिया (pimple causing bacteria) को मारता हैं और पोर्स (pores) को अंदर से क्लीन करता हैं जिससे की अगर ब्लैकहेड्स (blackheads) और पिम्पल्स (pimples) की समस्या आपको हैं तो उसमे आपको फायदा मिलता हैं।

    चावल का आटा (Rice flour): चावल का आटा एक बहुत ही अच्छा एंटी-एजिंग (anti-aging) और स्किन क्लींजिंग (skin cleansing) इंग्रीडिएंट माना जाता हैं। ये आपकी स्किन को डीपली क्लीन (deeply clean) करता हैं, आपके चेहरे से काले-निशान, धब्बे और झुर्रियों को हटाता हैं और साथ ही चेहरे के रंग को गोरा करने में बहुत इफेक्टिवली रिजल्ट्स दिखाता हैं। चावल का आटा स्किन की किसी भी तरह की समस्यायो को ख़त्म करने के लिए काफी हैं फिर चाहे चेहरे पर रिंकल्स (wrinkles) का दिखना शुरू हो गया हैं, फाइन लाइन्स (fine lines) और पिगमेंटेशन की प्रॉब्लम आपके चेहरे पर दिखने लगी हैं तो उसको भी ठीक करने में ये एक बहुत अच्छे नेचुरल इंग्रीडिएंट की तरह काम करता हैं और बहुत इफेक्टिवली रिजल्ट्स दिखाता हैं।

    एलोवेरा जेल (Aloe Vera gel): एलोवेरा जेल अपनी नेचुरल एंटी-बैक्टीरियल (anti-bacterial) और एंटी-फंगल (anti-fungal) प्रॉपर्टीज की वजह से अगर आपकी स्किन पर इन्फेक्शन (infection) हो, पिम्पल्स (pimples) हो रहे हो, ब्लैकहेड्स (blackheads) हो रहे हो और वाइटहेड्स (whiteheads) हो रहे हो तो उन्हें ठीक करने में और आपकी त्वचा के टेक्सचर को इम्प्रूव करने के लिए बहुत अच्छा होता हैं। आपकी स्किन पर किसी तरह का कालापन हो, किसी तरह के दाग-धब्बे (stains) हो या काले-निशान (black-spots) हो तो इन सभी को ठीक करने में एलोवेरा जेल बहुत मददगार होता हैं। एलोवेरा जेल यहाँ पर हम फ्रेश ले रहे हैं और अगर फ्रेश एलो वेरा जेल उपलब्ध नहीं हैं तो आप मार्केटेड एलोवेरा जेल भी ले सकते हैं।

    मसूर की दाल का आटा (Red lentil flour): मसूर की दाल हमेशा से ही स्किन को टाइट करने के लिए बेस्ट मानी जाती हैं। ये आपकी स्किन को डीपली डीटॉक्सिफाय (detoxify) करती हैं, पोर्स को बहुत अच्छे से क्लीन करती हैं रिजल्टेंट आपके पोर्स टाइट होते हैं और स्किन टाइट(tight) दिखती हैं। अगर पिम्पल्स आपकी स्किन पर हो रहे हैं बहुत ज्यादा स्किन ऑयली हैं तो उस समस्या से आपको छुटकारा मिलता हैं और अगर किसी तरह के दाग-धब्बे (stains) आपकी स्किन पर हैं पिगमेंटेशन की समस्या आपको हैं तो उसको भी दूर करने में ये बहुत अच्छा काम करती हैं।

    कॉफ़ी (Coffee): कॉफ़ी एक बहुत ही अच्छे स्किन डिटॉक्सीफाए (detoxify) एजेंट की तरह काम करती हैं आपके चेहरे की सारी गंदगी निकाल कर बाहर करती हैं, ओपन पोर्स को अंदर तक क्लीन करती हैं, पोर्स के अंदर जमे मैल, तेल और गंदगी को बाहर निकाल कर उनको श्रिंक करती हैं मतलब अगर ओपन पोर्स (open pores) की समस्या हैं तो इस रेमेडी से आपको काफी फायदा मिलेगा।

    हल्दी पाउडर (Turmeric powder): हल्दी (Turmeric) स्किन के रंग को गोरा करती हैं आपके चेहरे के अनचाहे बालो को हटाने में भी काफी अच्छा काम करती हैं। ये एक बहुत अच्छे नेचुरल ब्लीच की तरह काम करती हैं। इसके इस्तेमाल से काले निशान, दाग-धब्बे आसानी से कम हो जाते हैं और रेगुलर इस्तेमाल से ठीक हो जाते हैं।

    इन सभी चीज़ो को आपस में मिला ले और अगर आपको पेस्ट गाड़ा लग रहा हैं तो आप उसमे थोड़ा सा दही मिला सकते हैं और एक अच्छी कंसिस्टेंसी का पेस्ट तैयार कर ले। इसके बाद इस पेस्ट को हलके-हलके हाँथो से अपने चेहरे पर अच्छी तरह से लगा ले और कम से कम 20 से 25 मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दे लेकिन किसी भी तरह की मसाज या फिर रगड़ना नहीं हैं। इसके बाद हलके गुनगुने पानी से अपना चेहरा धो ले। इसके बाद जो भी रेगुलर मॉइस्चराइजर या सनस्क्रीन आप लगाते हैं वो लगा ले।

    अब 45 मे त्वचा दिखे 20 सी जवाँ, सॉफ्ट,टाइट, पिगमेंटेशन, झुर्रिया ख़त्म, हफ्ते मे 1 बार करे MAGICAL Curd FACIAL

    https://youtu.be/VVm2OjAEkxk

    By Caring You Online

    "Caring You Online" is a platform, where you can find all the information related to health, beauty, and personal care. All the content on this website is written and reviewed by a team of health care professionals.

    Leave a Reply