Sun. Aug 1st, 2021

    हेलो फ्रेंड्स,

    Advertisements

    आज हम जानेगे गुलाब, गुड़हल और गेंदे के फूल के फायदों के बारे में जो आपको पता नहीं होगा। तो अपने चेहरे को साफ़, सुन्दर और चमकदार बनाने के लिए गुलाब, गुड़हल और गेंदे के फूलों से अपनी स्किन के लिए रेमेडी बनाए।

    यहाँ पर आप जानेगे अपने चेहरे को साफ़, सुन्दर, गोरा और चमकदार बनाने के लिए एक ऐसी रेमेडी के बारे में जो कि अपने एंटी-एजिंग (anti-aging) बेनिफिट्स की वजह से बहुत ज्यादा पॉपुलर है और बहुत ज्यादा फायदेमंद है आपके चेहरे से झुर्रियाँ (wrinkles) हटाने में, झाईयाँ (fine lines) निकालने के लिए, आपके चेहरे में कसाबट लाने के लिए और आपकी स्किन को टाइट करने के लिए इसलिए अगर आप चाहते हैं कि आपकी स्किन पर बहुत अच्छे टाइटनिंग इफेक्ट्स (tightening effects) दिखे और आपकी त्वचा आपकी उम्र से 10 साल कम दिखे तो ये रेमेडी ज़रूर इस्तेमाल कीजिए। इस रेमेडी में इस्तेमाल होने वाली सारी चीज़े आपको घर पर ही मिल जाएगी और ये बनाने में बहुत आसान है। ये रेमेडी आपकी स्किन को टोन (tone) करती है, डी-टोन (de-tone) करती है, डीटॉक्सिफाय (detoxify) करती है, स्किन को टाइट (tight) करती है साथ ही आपके रंग को निखारने के लिए बहुत अच्छी मानी जाती है। इस रेमेडी के एंटी-एजिंग (anti-aging) बेनिफिट्स बहुत ज्यादा हैं जैसे झुर्रियों (wrinkles) को निकालने में, झाईयों (fine lines) को निकालने में ये बहुत इफेक्टिव हैं।

    तो चलिए जानते हैं इस रेमेडी को बनाना और इस रेमेडी को बनाने के लिए आपको चाहिए :

    गुलाब की पंखुड़ियों का पेस्ट (Rose petals paste)-

    गुलाब के फूल (Rose flower) के बारे में हम सभी जानते हैं कि कितना ज्यादा फायदेमंद होता है चेहरे का रंग निखारने में लेकिन ये सिर्फ आपके चेहरे का रंग निखारने के साथ-साथ आपके चेहरे को स्मूथ, सपल और ग्लोइंग भी बनता हैं। चेहरे के दाग-धब्बो को बहुत इफेक्टिवली हटाता हैं और डार्क-सर्कल्स (dark-circle) को कम करने में भी ये बहुत अच्छे रिजल्ट्स दिखता हैं।

    गुड़हल की पंखुड़ियों का पेस्ट (Hibiscus petals paste)-

    गुड़हल के फूल (Hibiscus flower) के बोटॉक्स फ्लावर (Botox flower) भी कहा जाता है। ये आपकी स्किन की इलास्टिसिटी (elasticity) को बढ़ाता है जिससे कि समय से पहले आपकी स्किन पर फाइन लाइन्स या रिंकल्स को ठीक करने में बहुत इफेक्टिव होता हैं। आपके कॉमप्लेकसन को इम्प्रूव करता हैं और आपकी स्किन को स्मूथ, सपल और ग्लोइंग बनाता हैं।

    गैंदे की पंखुड़ियों का पेस्ट (Marigold petals paste)-

    गेंदा का फूल (Marigold flower) भी नेचुरल एंटी-बैक्टीरियल (anti-bacterial), एंटीसेप्टिक (antiseptic) और एंटी-इनफ्लामेट्री (anti-inflammatory) फूल होता हैं। जो टीनेजर्स पिम्पल्स (pimples), ब्लैकहेड्स (blackheads) या दाग-धब्बो (stains) से परेशान हैं तो उन्हें ठीक करने में ये बहुत इफेक्टिव हैं। ये पोर्स (pores) को डीपली क्लीन करता है और आपकी स्किन को स्मूथ (smooth), सपल (sepal) और ग्लोइंग (glowing) बनाता हैं। आपके चेहरे पर झुर्रियाँ, झाईयाँ या ब्लेमिशिस (blemishes) दिखने लगे हैं तो उनको भी ठीक करने में ये बहुत इफ़ेक्टिवली रिजल्ट्स दिखाता हैं।

    चंदन का पेस्ट (Sandalwood paste)-

    चंदन का पेस्ट बनाने के लिए चंदन की लकड़ी को घिस कर पेस्ट बना ले। यहाँ पर हम लाल चंदन का पेस्ट इस्तेमाल कर रहे हैं क्योकि ये स्किन को खासतौर पर गोरा बनाने के लिए ज्यादा इफेक्टिव होता हैं और चेहरे के काले-निशान (black-spots), धब्बो, ब्लैकहेड्स और ब्लेमिशिस को निकालने में काफी मददगार होता हैं।

    मुलेठी का पेस्ट (Licorice paste-

    मुलेठी के भी अपने एंटी-एजिंग (anti-aging) बेनिफिट्स के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद होता हैं झुर्रियों को निकालने में, फाइन लाइन्स को निकालने में और इसके साथ ही इसका जो दूसरा जबरजस्त फायदा होता हैं वो हैं ये आपकी स्किन टोन (skin tone) को हल्का करती हैं, आपके रंग को निखारने के लिए उतनी ही फायदेमंद होती हैं तो इसके एंटी-एजिंग (anti-aging) और स्किन टाइटनिंग (skin tightening) दोनों ही फायदे बहुत अच्छे होते हैं। आपके चेहरे के काले-निशान (black-spots) और दाग-धब्बो को हटाने के लिए बहुत अच्छा काम करती हैं। यहाँ पर मैने मुलेठी की जड़ (Licorice root) को घिस कर मुलेठी का पेस्ट बनाया हैं।

    तो चलिए जानते हैं इस रेमेडी को बनाने के लिए आपको सभी चीज़ो की मात्रा कितनी चाहिए:

    1 चम्मच गुलाब की पंखुड़ियों का पेस्ट

    1 चम्मच गुड़हल की पंखुड़ियों का पेस्ट

    1 चम्मच गैंदे की पंखुड़ियों का पेस्ट

    1 चम्मच चंदन का पेस्ट

    1 चम्मच मुलेठी का पेस्ट

    अब इन सभी चीज़ो को आपस में अच्छी तरह से मिला ले और एक अच्छा पेस्ट तैयार कर ले। जिससे कि आप इस पेस्ट को आसानी से अपने चेहरे पर लगा  पाए। इस रेमेडी को आप कही भी इस्तेमाल कर सकते है फिर चाहे अपने चेहरे (face) पर, गर्दन (neck) पर, हाथों (hands) पर, पैरों (legs) पर, नक्लस (knuckles) पर या फिर कोहनियो (elbows) पर आप कही भी इस्तेमाल कर सकते है। इस रेमेडी को आप हफ्ते में 3 से 4 बार इस्तेमाल कर सकते हैं।

    उपयोग करने की विधि-

    इस रेमेडी को अपने चेहरे (face) पर, गर्दन (neck) पर, हाथों (hands) पर, पैरों (legs) पर, नक्लस (knuckles) पर या फिर कोहनियो (elbows) पर कही भी लगा सकते हैं जहाँ भी आपको लगाना हो वहाँ हलके-हलके हाथो से लगा ले और कम से कम 20 से 25 मिनट के लिए ऐसे ही लगा रहने दे और इसके बाद अपने चेहरे को साफ़ पानी से धो लें। इसके बाद आप मॉइस्चराइजिंग क्रीम लगा लें। इस रेमेडी को आप हफ्ते में 3 से 4 बार भी इस्तेमाल कर सकते हैं और अगर आपकी स्किन का कालापन और स्किन के रूखी दिखने की समास्या बहुत ज्यादा हैं तो आप इस रेमेडी को रोज़ भी इस्तेमाल कर सकते हैं और जब ये धीरे-धीरे कम हो जाए तो फिर आप इस रेमेडी को हफ्ते में 3 से 4 बार इस्तेमाल करना शुरू कर दे और इसके रेगुलर इस्तेमाल से आपकी स्किन बनेगी ग्लोइंग (glowing), रेडियंट (radiant) और शाइनिंग (shining)।

    By Caring You Online

    "Caring You Online" is a platform, where you can find all the information related to health, beauty, and personal care. All the content on this website is written and reviewed by a team of health care professionals.

    Leave a Reply